हंसी के फव्‍वारे का नया पता

Tuesday, June 7, 2011

संता- बीवी और साली

संता-
दुख तो जीवन का साथी है
और सुख तो आता-जाता है

बंता-
सही बात है,
मेरी बीवी हमेशा साथ रहती है
पर साली आती-जाती रहती है

=============

संता की बेटी-
पापा कल आपके घर से
एक सदस्‍य कम हो जाएगा

अगले दिन संता की बेटी
भाग जाती है

संता-
लड़की ने काम तो गलत किया
पर थी वो ज्‍योतिषी

=============

संता का पड़ौसी मर गया

संता उसके यहां जाकर बोला -
बॉडी कहां है ?

तभी बॉडी को लेकर एंबुलेंस आ गई

संता बोला-
लो बताओ कितनी लंबी उमर है !

2 comments:

संजय भास्कर said...

वाह!!!वाह!!! क्या कहने, बेहद उम्दा

अन्तर सोहिल said...

हा-हा-हा
मजा आ गया

प्रणाम